‘मन की बात’ : PM ने मुस्लिम महिलाओं को न्याय का विश्वास दिलाया

 74 



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो पर 47वीं बार ‘मन की बात’ के जरिये देशवासियों को रक्षाबंधन एवं जन्माष्टमी के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि महिला सुरक्षा हेतु दुष्कर्म के दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई के लिए संसद में कानून लाया गया है. उन्होंने मुस्लिम महिलाओं को विश्वास दिलाया कि पूरा देश उन्हें न्याय दिलाने के लिए खड़ा है.
महिला सुरक्षा की बात करते हुए PM ने कहा कि देश की नारी शक्ति के खिलाफ कोई भी सभ्य समाज किसी भी प्रकार के अन्याय को बर्दाश्त नहीं कर सकता. बलात्कार के दोषियों को देश सहन करने के लिए तैयार नहीं है, इसीलिए संसद ने आपराधिक कानून संशोधन विधेयक को पास कर कठोरतम सजा का प्रावधान किया है. तीन तलाक से संबंधित बिल का जिक्र करते हुए कहा कि यह बिल लोकसभा में पास हो गया है, अभी राज्यसभा से पास होना बाकी है. ‘मैं मुस्लिम महिलाओं को विश्वास दिलाता हूं कि पूरा देश उन्हें न्याय दिलाने के लिए खड़ा है.’
PM ने कहा कि कठिन परिश्रम करने वाले हमारे किसानों के लिए मानसून नयी उम्मीदें लेकर आता है. भीषण गर्मी से झुलसते पेड़-पौधे, सूखे जलाशयों को राहत देता है लेकिन कभी-कभी यह अतिवृष्टि और विनाशकारी बाढ़ भी लाता है. केरल में भीषण बाढ़ आयी है. इस दुख की घड़ी में पूरा देश केरल के साथ खड़ा है. आपदाओं के समय हमें मानवता के भी दर्शन होते हैं. सशस्त्र बलों के जवानों ने केरल बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी. मैं केरल और जहां भी आपदा आयी है, वहां के लोगों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि पूरा देश संकट की घड़ी में आपके साथ है.


PM ने कहा कि इस बार देश के अलग-अलग कोने से लोगों ने इस कार्यक्रम में अटल बिहारी वाजपेयी के विषय पर बोलने की अपील की है. एक ऐसे राष्ट्र नेता, जिन्होंने 14 साल पहले प्रधानमंत्री पद छोड़ दिया था, दस साल से वे राजनीति से दूर रहे. 16 अगस्त को जैसे ही देश और दुनिया ने अटल जी के निधन का समाचार सुना, हर कोई शोक में डूब गया. अटल जी को देश हमेशा याद रखेगा. अटल जी ने भारत को जो राजनीतिक संस्कृति दी, उसकी वजह से भारत को बहुत लाभ हुआ. वर्ष 2001 में अटल जी ने बजट पेश करने का समय शाम 5 बजे से बदलकर सुबह 11 बजे कर दिया. स्वस्थ और उत्तम लोकतंत्र के लिए अच्छी परम्पराएं विकसित करना, लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए लगातार प्रयास करना, चर्चाओं को खुले मन से आगे बढ़ाना, यह अटल जी को एक उत्तम श्रद्धांजलि होगी. अटलजी के समृद्ध और विकसित भारत के सपने को पूरा करने का संकल्प दोहराते हुए मैं हम सबकी ओर से अटल जी को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.
PM ने कहा कि कुछ दिन पहले ही संसद का मानसून सत्र समाप्त हुआ है. यह जानकर आप सबको प्रसन्नता होगी कि लोकसभा की productivity 118% और राज्यसभा की 74% रही. लोकसभा ने 21 विधेयक और राज्यसभा ने 14 विधेयकों को पारित किया. संसद का ये मानसून सत्र सामाजिक न्याय और युवाओं के कल्याण के सत्र के रूप में हमेशा याद किया जाएगा.
PM ने कहा कि इन दिनों करोड़ों देशवासियों का ध्यान जकार्ता में हो रहे एशियन गेम्स पर लगा हुआ है देश के लिए मेडल जीतने वालों में बढ़ी संख्या में हमारी बेटियाँ शामिल हैं और ये बहुत ही सकारात्मक संकेत है. मैं एशियन गेम्स में पदक विजेताओं को बधाई देता हूं. मैं देश के सभी नागरिकों से निवेदन करता हूं कि वे ज़रूर खेलें और अपनी फिटनेस का ध्यान रखें क्योंकि स्वस्थ भारत ही संपन्न और समृद्ध भारत का निर्माण करेगा. सभी को राष्ट्रीय खेलदिवस की भी बहुत-बहुत शुभकामनाएं.
PM ने कहा कि आने वाले 15 सितम्बर को एक इंजीनियर्स दिवस के तौर पर मनाया जाता है. भारत रत्न डॉ. एम. विश्वेश्वरय्या द्वारा कावेरी नदी पर बनाये कृष्णराज सागर बांध से आज भी लाखों की संख्या में किसान और जन-सामान्य लाभान्वित हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि जब हम इंजीनियर्स दिवस मनाते हैं तो हमें भविष्य के लिए भी सोचना चाहिए आजकल प्राकृतिक आपदाओं से विश्व जूझ रहा है. ऐसे में संरचनात्मक अभियांत्रिकी का नया रूप क्या हो? निर्माण पर्यावरण के अनुकूल कैसे हो? ऐसी अनेक बातें हमें ज़रूर सोचनी चाहिए.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *