कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए मतदान से चंद दिन पहले पूर्व सांसद और क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन को प्रदेश कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है. इसके साथ तेलंगाना कांग्रेस में कुछ और नए पदाधिकारी भी नियुक्त किये गये हैं.
कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व सांसद मोहम्मद अजहरुद्दीन की तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी है. प्रदेश इकाई में दो उपाध्यक्षों विनोद कुमार और जाफर जावेद, आठ नये महासचिवों और चार सचिवों को मनोनीत किया गया है.


अजहरुद्दीन भारतीय क्रिक्रेट टीम के कप्तान रहे हैं. 2000 में मैच फिक्सिंग में फंसने के बाद उनका क्रिक्रेट कैरियर अचानक समाप्त हो गया और BCCI ने उन पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया. हालांकि आंध्रप्रदेश उच्च न्यायालय ने 2012 में उन पर लगाये गये आजीवन प्रतिबंध को अवैध घोषित कर दिया था. अजहरुद्दीन 2009 में कांग्रेस में शामिल हुए थे और उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से कांग्रेस के टिकट पर सांसद चुने गये थे. 2014 में राजस्थान के टोंक सवाई माधोपुर से चुनाव लड़ा जहाँ पराजित हो गए थे.
हैदराबाद के अजहरुद्दीन तेलंगाना के सिकंदराबाद निर्वाचन क्षेत्र से 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं. तेलंगाना में सात दिसंबर को विधानसभा चुनाव है. लिंगाराजू को कर्नाटक प्रदेश मछुआरा कांग्रेस का अध्यक्ष भी नियुक्त किया है. कांग्रेस ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे पूर्व सांसद संदीप दीक्षित को पार्टी का सचिव नियुक्त कर उन्हें ‘सिविक और सोशल आउटरीच कांग्रेस’ से संबद्ध किया है.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *