भाजपा नेता देवेंद्र चंद के खिलाफ एक महिला ने दुष्कर्म के प्रयास और पड़ोसी के बेटे को सहकारिता विभाग में स्थायी नौकरी दिलाने के नाम पर सात लाख रुपये हड़पने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। ऊधम‌‌‌सिंह नगर SSP के निर्देश पर यह कार्रवाई हुयी।
जिले के मुंडेली क्षेत्र की पीड़ित महिला ने पुलिस को बताया कि उसके पति दिल्ली में कंस्ट्रक्शन का काम करते हैं। वह तीन बच्चों के साथ घर पर अकेली रहती है। ग्राम श्रीपुर बिचवा निवासी भाजपा नेता देवेंद्र चंद का उसके घर आना-जाना था। उसने अपनी ऊंची पहुंच का हवाला देते हुए काम कराने का आश्वासन दिया। उसके पड़ोसी बसंत गिरी का बेटा शुभम सहकारिता विभाग में अस्थायी कर्मचारी है। उसे स्थायी कराने के नाम पर देवेंद्र ने एक वर्ष पूर्व सात लाख रुपये लिये थे लेकिन शुभम का नियमितीकरण नहीं हुआ।
महिला का आरोप है कि धीरे-धीरे आरोपी की नीयत खराब होने लगी तो उसके पति ने घर में CCTV कैमरे लगा दिये थे। आरोपी ने तीन और दस अप्रैल को उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। उसने किसी तरह स्वयं को आरोपी के चंगुल से छुड़ाया और बदनामी के डर से उसने यह बात किसी को नहीं बतायी। बाद में आरोपी सात लाख रुपये न लौटाने और शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गया।
महिला की तहरीर पर पुलिस ने देवेंद्र चंद के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 511, 492, 506, 420 में मुकदमा दर्ज कर घटनास्थल की CCTV फुटेज को फोरेंसिक लैब में परीक्षण के लिए भेज दिया है। पुलिस ने पीड़ित महिला का न्यायालय में 164 के तहत बयान दर्ज करा लिया है।
महिला के साथ छेड़छाड़, बलात्कार के प्रयास का आरोपी देवेंद्र चंद वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट चुनाव लड़ चुका है। यह कबीना मंत्री यशपाल आर्य का करीबी माना जाता है और 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस नेता यशपाल आर्य के भाजपा में शामिल होने के बाद आरोपी देवेंद्र भी भाजपा में शामिल हो गया था।
आरोपी देवेंद्र चंद का नाम खटीमा के एक राइस मिलर राजेश राणा से रंगदारी मांगने के मामले में भी विधानसभा में गूंज चुका है। नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश ने विधानसभा में प्रश्न उठाकर देवेंद्र पर राइस मिलर से रंगदारी मांगने, रंगदारी न देने पर राइस मिल में छापा डलवाने का आरोप लगाया था। इस मामले को लेकर विधानसभा में खासा हंगामा हुआ था।

loading…



Loading…




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *