प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑपरेशन ‘क्लीन मनी’ की समीक्षा के दौरान वित्त मंत्रालय के अधिकारियों से बेनामी संपत्त‍ि के खिलाफ कार्रवाई तेज करने को कहा हैl
मोदी ने कहा कि मानवीय दखल कम से कम हो इसके लिए ई-असेसमेंट व्यवस्था को पूर्णतया लागू किया जाना चाहिए ताकि एसेसमेंट कंप्यूटराइज्ड तरीके से लागू होl साथ ही PM ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को टैक्स के दायरे में लाया जाना चाहिए ताकि टैक्स आधार बढ़ाया जा सकेl
पिछले साल नोटबंदी के बोल्ड फैसले के बाद सरकार ने काले धन पर चोट करने के लिए व्यापक स्तर पर कार्रवाई शुरू की हैl साथ ही सरकार ने बेनामी संपत्तियों और महंगी प्रॉपर्टी पर खास नजर रखते हुए जांच प्रारम्भ हो चुकी हैl काले धन के खिलाफ इस बड़ी कार्रवाई के तहत देश के सभी प्रमुख शहरों के हाईवे के पास की जमीनों की जांच शुरू की गई हैl इसके अलावा देश के प्रमुख शहरों के वीआईपी इलाकों में मौजूद जायदादों की जांच भी हो रही हैl प्रमुख औद्योगिक प्लॉटों, कॉमर्शियल फ्लैटों, दुकानों की भी जांच चल रही हैl
जांच एजेंसियों को जांच के दौरान पता चला कि दिल्ली के लुटियन जोन में भी कुछ बंगलों का वास्तविक मालिक कोई और हैl जांच के दायरे में रिश्वत और भ्रष्टाचार की रकमों से खरीदे गए कुछ बंगले भी शामिल हैंl
सरकार ने तमाम विभागों से सरकारी जमीनों का ब्यौरा मांगा हैl इसके तहत पता लगाया जा रहा है कि कहां-कहां जमीन किसके कब्जे में हैं, उसकी पूरी लिस्ट तैयार की जा रही हैl दो सौ से ज्यादा आयकर विभाग और अन्य विभागों के टीमों की मदद से इन सब प्रॉपर्टीज का वेरीफिकेशन किया जा रहा हैl
दोषी पाए जाने पर एक नवबंर 2016 से लागू बेनामी ट्रांजेक्शन एक्ट 2016 के तहत तथ्य जुटाने के बाद इन मामलों में सरकार कार्रवाई करेगीl इसके तहत बेनामी संपत्ति जब्त की जा सकती है साथ ही इसमें सात साल की सज़ा का भी प्रावधान हैl
ऑपरेशन क्लीन मनी के तहत इनकम टैक्स डिपार्टमेंट टैक्स रिटर्न भरने वाले लोगों के ऐसे खातों की जांच में जुटा है जिनमें 2 लाख रुपये से ज्यादा जमा हुए हैंl साल 2017-18 के लिए जारी किए गए रिटर्न फॉर्म में इस बाबत एक नए कॉलम का प्रावधान हैl इस कॉलम में दी गई जानकारी को बैंकों और दूसरी वित्तीय संस्थाओं से मिले डाटा से मिलाया जायेगाl

loading…



Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *