बिहार से संदिग्ध आतंकी को NIA ने किया गिरफ्तार, उप्र में भी हुयी छापेमारी

 55 


लश्कर-ए-तैयबा के स्लीपर सेल के आतंकी अब्दुल नईम शेख के कथित मददगार गोपालगंज जिले के आलम नामक युवक को एनआइए ने गिरफ्तार किया. उस पर शेख को साजो-सामान, वित्तीय समर्थन और आश्रय मुहैया कराने का आरोप है.
एनआइए प्रवक्ता ने बताया कि आरोपी को विशेष अदालत ने दो दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेजा है. इस मामले में यह चौथी गिरफ्तारी है. एनआइए ने इस मामले में यूपी के मुजफ्फरनगर में दो हवाला ऑपरेटरों दिनेश गर्ग और आदेश कुमार जैन के यहां छापेमारी भी की है.
छापेमारी में गर्ग की दुकान और घर से 15 लाख रुपये नकद, नोट गिनने वाली दो मशीनें, एक देसी पिस्तौल, कारतूस, एक लैपटॉप, चार मोबाइल फोन और विभिन्न दस्तावेज जब्त किये गये, जबकि जैन के घर और दुकान से 32.84 लाख रुपये नकद, एक चाइनिज पिस्तौल, गोली, कई देशों की करेंसी, दो लैपटॉप और तीन मोबाइल फोन आदि जब्त किये.
शेख महाराष्ट्र के औरंगाबाद का रहनेवाला है. एनआइए ने उसे पिछले साल नवंबर में लखनऊ से गिरफ्तार किया था. वह पाकिस्तान के अपने आकाओं के इशारे पर बिहार, यूपी, उत्तराखंड, दिल्ली आदि राज्यों में लश्कर के लिए स्लीपर सेल तैयार करता था.
उसके ताल्लुकात कश्मीरी आतंकियों और अलगाववादियों से भी थे. शेख को डेविड हेडली की तरह टोह लेने के मिशन में लगाया गया था. हेडली एक पाकिस्तानी अमेरिकी है, जो 2008 के मुंबई हमलों और आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्तता के लिए अमेरिकी जेल में 35 साल के कारावास की सजा काट रहा है.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading...


Loading...