महिला सुरक्षा को देखते हुए सभी मोबाइल फोंस में ‘पैनिक बटन’ होगा. अब दिन-रात बेहिचक सफर करने की आजादी के साथ ही सुरक्षा का एहसास भी होगा. इस नए फीचर के बिना अगले साल से किसी भी फोन की ब्रिकी नहीं होगी.
महिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी मोबाइल फोन निर्माताओं ने ऐसे मोबाइल्स बनाने शुरू किए हैं जिनमें पैनिक बटन दिया गया होगा और इसके अलावा 1 जनवरी 2018 से सभी मोबाइल्‍स में जीपीएस की सुविधा भी शुरू हो जाएगी.
इस फैसिलिटी के माध्यम से आपको एक बटन को महज लॉन्ग प्रेस करना होगा और ऐसा करते ही आपके परिवार या दोस्तों को एक अलर्ट अपने आप ही चला जाएगा. इसके अलावा आपकी लोकेशन भी उन्हें पता चल जाएगी.
इस कदम को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय और आईटी और टेलीकम्यूनिकेशन के सहयोग और दिशानिर्देशों को देखते हुए उठाया गया है.




इसके अलावा जो मोबाइल अभी निर्मित हो गए हैं, उनके लिए चर्चा जारी है और अभी प्लान निर्मित करना बाकी है. टेलीकॉम मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने एक बयान में कहा, ‘टेक्नोलॉजी ही मानव जीवन को बेहतर बनाती है और महिलाओं की सिक्युरिटी को सुनिश्चित करने के लिए बड़ी पहल की जाएगी.
इसके तहत पैनिक बटन के बिना भारत में कोई भी सेलफोन नहीं बिक सकेगा. साथ ही 1 जनवरी 2018 से सभी मोबाइल सेट में जीपीएस इनबिल्ट भी होना चाहिए.’
महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इससे संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है और इस बारे में मोबाइल फोन हैंडसेट रुल्स 2016 की अधिसूचना जारी कर दी गई है।
महिलायेंआपात स्थिति में पेनिक बटन दबाकर पुलिस या अपने करीबी की मदद ले सकेंगी। मोबाइल में एक पेनिक बटन जो किसी भी अंक का हो सकता है, को दबाने से कम से कम तीन नंबरों पर तुरंत संकट में होने संबंधी संदेश चला जाएगा। इसमें पुलिस या अपने करीबियों का नंबर डाला जा सकता है। यदि फोन में जीपीएस है तो पुलिस आसानी से संबंधित महिला तक पहुंच सकती है। हाल में केंद्रीय महिला एत्तं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने भी फोन में पेनिक बटन अनिवार्य किए जाने की मांग की है। महिलाओं के साथ-साथ बच्चों और बुजुर्गों के लिए भी ऐसे फोन उपयोगी हो सकते हैं।
मंत्रालय ने कहा कि ये प्रावधान सभी किस्म के फोन के लिए लागू होंगे। चाहे वह स्मार्ट फोन हों या फीचर फोन। फोन निर्माण करने वाली कंपनियों को काफी समय दिया गया है, इसलिए मंत्रालय को उम्मीद है कि इसे लागू करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।



loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *