उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं सपा नेता आजम खान ने सेना पर बेहद आपत्तिजनक बयान दिया है.
उन्‍होंने कहा कि सीमा पर लड़ाई चल रही है, लेकिन एक जगह महिलाएं सैनिकों को मार रही हैं. उन्‍होंने कहा कि दहशतगर्द फौज के प्राइवेट पार्ट्स काटकर साथ ले गए. उन्हें हाथ से शिकायत नहीं थी, सिर से नहीं थी, पैर से नहीं थी. जिस्म के जिस हिस्से से उन्हें शिकायत थी, वे उसे काटकर ले गए. आजम ने कहा कि यह इतना बड़ा संदेश है, जिसपर पूरे हिंदुस्तान को शर्मिंदा होना चाहिए और सोचना चाहिए कि हम दुनिया को क्या मुंह दिखाएंगे?’
आजम खान ने कहा कि कश्मीर में जवानों को महिलाओं ने पीटा है, इसलिए कश्मीर में महिलाओं ने फौजियों के अंग काट लिए. असम और झारखंड में भी महिलाओं ने फौजियों को पीटा है. उन्होंने कहा कि मोदी राज में देश राह से भटक गया है. देश बैलेट की जगह बुलेट के मार्ग पर चल पड़ा है, जिसका परिणाम सभी के सामने है.

रामपुर जिला के सपा कैंप कार्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री आजम ने कहा कि हमारे जीवन में सबसे बड़ा राजनीतिक मूवमेंट बाबरी मस्जिद राम जन्मभूमि का है, जिसकी आज भी हिन्दुस्तान कीमत अदा कर रहा है और शायद इसकी अदायगी आसानी से खत्म होने वाली नहीं है. आजम खां ने कहा कि हिन्दुस्तान का माहौल सबसे ज्यादा बदनसीब और निंदनीय है.
उन्हेांने कहा कि अब हिन्दुस्तान अपने रास्ते से हट रहा है. देश के सियासती लोग बैलेट की बजाए बुलेट का रास्ता अख्तियार करना चाहते हैं, जिसका अंजाम सामने है. कश्मीर, झारखंड और असम में औरतें फौजियों को पीट रही हैं. रेप की घटनाओं के बदले में महिला दहशतगर्द उनके निजी अंग काटकर ले गईं. इससे पूरे हिंदुस्तान को शर्मिंदा होना चाहिए और सोचना चाहिए कि हम पूरी दुनिया को क्या मुंह दिखाएंगे.
जुनैद, नजीब के कत्ल तो वो क़त्ल हैं, जो प्रकाश में आ जाते हैं, लेकिन आमतौर पर जो ज्यादती हो रही है, वो हुक्मरानी नहीं है. जब सिर उतरते हैं, तो ताज उतर जाते हैं. बेहद खतरनाक खेल हो रहा है. ईद के मौके पर बहन अपने भाई के घर नहीं गई, ताकि उनके चेहरे और उनके नाम की शिनाख्त न हो और उनकी हिफाजत हो सके. आजम ने सवाल किया कि मुल्क को कहां लिए जा रहे हो?
आजम खान ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर तंज करते हुए कहा कि भगवा दुपट्टे ओढ़कर जवानी आ गई. किसी वजीर ने कहा कि यह समाजवादी गुंडे हैं, पकड़ो उन्हें. अगर समाजवादी होते, तो पकड़े जाते मगर यह कैसे पकड़े जाएंगे, क्योंकि इनके गलों में तो भगवा दुपट्टे पड़े हुए हैं. अगर गिरफ्तार करेंगे, तो थाने जला दिए जाएंगे. दरोगा जी को दौड़ा-दौड़ा कर मारा जाएगा. इस दौरान उन्होंने सूबे की योगी सरकार पर भी खूब हमला बोला.

सेना पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के लिए आजम खान पर निशाना साधते हुए बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि आजम खान जैसे लोग आतंकवाद के बचाव में बयान देते हैं. वह हमेशा ऐसा करते रहे हैं. वह कभी यह बयान देते हैं कि केवल मुसलममानों के कारण जीत हुई थी. ऐसा बयान देने वाले राजनेताओं के बहिष्कार की बात भी कही, जबकि पार्टी के ही एक अन्य प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा ने कहा कि आजम अलगाववादियों और आतंकवादियों के लिए बोल रहे हैं क्योंकि समाजवादी पार्टी खुद अपने नेताओं को इस तरह के बयान देने के लिए उकसा रही है.
आजम खान पहले भी अपने विवादित बयानों के कारण सुर्खियों में रह चुके हैं. उनके बयान पर कई बार विवाद हो चुके हैं. हाल ही में उन्‍होंने बुलंदशहर गैंगरेप पर विवादित टिप्पणी करते हुए घटना को राजनीतिक साजिश करार दिया था. हालांकि, जब सुप्रीम कोर्ट ने उनसे सवाल किया तो उन्होंने कहा कि उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है और बाद में आजम ने बिना शर्त माफी मांग ली थी.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading…

Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *