रोहित कुमार के नेतृत्व में बेंगलुरू बुल्स ने गत वर्ष की उप विजेता गुजरात फॉर्च्यून जाइंट्स को 38-33 से हराकर प्रो कबड्डी लीग सीजन छह का खिताब अपने नाम कर लिया. मुंबई के नेशनल स्पोर्ट्स क्लब ऑफ इंडिया स्टेडियम में खेले गए इस रोमांचक फाइनल में गुजरात पहले हाफ तक 16-9 से आगे थी.
बेंगलुरू बुल्स ने रेडर पवन कुमार सेहरावत के दम पर दूसरे हाफ में शानदार वापसी करते हुए एक के बाद एक अंक बटोरे. सेहरावत मैच के स्टार और मैन ऑफ द मैच भी रहे जिन्होंने 22 रेड अंक हासिल किए. हाँलाकि पहले हाफ में सुनील कुमार की अगुवाई में गुजरात शानदार खेल दिखाते हुए 16-9 से आगे थी.
सेहरावत ने 25 रेड में 22 प्वाइंट्स हासिल किए, जबकि सुमित सिंह 5 टैकल में 2 अंकों के साथ टॉप डिफेंडर रहे. वहीं गुजरात के सचिन ने 22 रेड में 10 प्वाइंट्स हासिल किए, जबकि सुनील कुमार 11 टैकल में 4 प्वाइंट्स के साथ टॉप डिफेंडर रहे. मुकाबले में बेंगलुरू को 26 रेड प्वाइंट्स, 7 टैकल प्वाइंट्स, 4 ऑलआउट प्वाइंट्स और 1 एक्सट्रा प्वाइंट् मिला. गुजरात को 20 रेड प्वाइंट्स, 8 टैकल प्वाइंट्स, 2 ऑलआउट प्वाइंट्स और 3 एक्स्ट्रा प्वाइंट्स मिला.
बेंगलुरू पहले क्वालीफायर में गुजरात को 12 अंक से पराजित कर फाइनल में पहुंची थी. जबकि दूसरे क्वालीफायर में यूपी योद्धा को शिकस्त देकर गुजरात ने फाइनल में प्रवेश किया था. दोनों टीमें एक दूसरे से तीन बार भिड़ चुकी थीं. जिसमें से दोनों ने एक-एक मैच जीता, जबकि एक मुकाबला टाई रहा था. गुजरात ने 93 और बेंगलुरू ने 78 अंकों से साथ क्वालीफाई किया था. इस सीजन में गुजरात की टीम 22 मैच खेल 17 में जीती, 3 में हारी और उसका 2 मैच टाई रहा, जबकि बेंगलुरू अपने 22 मैच में सिर्फ 13 में जीती, 7 में हारी और उसका भी 2 मैच टाई रहा था.


खिताबी मुकाबले में पहले पांच मिनट तक दोनों टीम 3-3 से और अगले पांच मिनट तक 6-6 से बराबरी पर थीं. हाफ टाइम के पांच मिनट पहले काशीलिंग अडके ने दो अंक लेकर स्कोर 9-11 कर दिया लेकिन प्रपंजन ने 18वें मिनट में बेंगलुरू को आलआउट कर एक साथ चार अंक अर्जित किया और पहले हाफ तक गुजरात 16-9 से आगे था. दूसरे हाफ के पहले पांच मिनट तक गुजरात की बढ़त 19-13 पर थी. इसके बाद दसवें मिनट में बेंगलुरू ने जोरदार वापसी कर स्कोर के फासले को घटाकर 19-21 कर दिया और 11वें मिनट में पवन के शानदार रेड से गुजरात को ऑलआउट कर मैच में पहली बार बढ़त हासिल कर स्कोर 23-22 कर दिया.
स्कोर के 23-23 से बराबरी पर आने के बाद 14वें मिनट में रोहित गुलिया ने सुपर रेड लगाकर गुजरात को 27-25 से आगे कर दिया. बेंगलुरू ने 16वें मिनट में फिर स्कोर को 29-29 से बराबरी पर ला दिया. 18वें मिनट में पवन ने बेंगलुरू को दो अंकों की बढ़त दिलाकर स्कोर 31-29 कर दिया और इसी समय गुजरात को ऑलआउट कर बेंगलुरू ने स्कोर 36-30 कर दिया. आखिरी के 15 सेकेंड में बेंगलुरू ने स्कोर को 38-33 कर छठे सीजन में चैम्पियन का ताज अपने सर रखने का गौरव प्राप्त कर लिया.
प्रो कबड्डी लीग की शुरुआत 2014 में हुई थी और पहला ख़िताब जितने का सौभाग्य जयपुर पिंक पैंथर्स को 35- 24 से यू मुम्बा को हरा कर मिला था. सीजन 2 का ख़िताब यू मुम्बा ने 36-30 से बेंगलुरू बुल्स को हरा कर अपने कब्जे में किया. तीसरा ख़िताब पटना पाइरेट्स 3 अंकों से (31-28) यू मुम्बा को हराकर जीता. चौथे और पांचवें ख़िताब को भी पटना पाइरेट्स ने क्रमशः जयपुर पिंक पैंथर्स और गुजरात फॉरच्यून जायंट्स को हराकर अपने कब्जे में रखा.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *