जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए फिदायीन आतंकी हमले में 40 से ज्यादा सीआरपीएफ जवानों के शहीद होने पर जहाँ एक तरह देशभर में गुस्से और आक्रोश का माहौल है वहीँ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इस समय सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल किया जा रहा है।
पुलवामा हमले में बलिदान देने वाले शहीद जवानों को एक तरफ देश श्रद्धांजलि दे रहा है वहीँ सियासी पार्टियां इस दुखद मौके पर भी बयानबाजी करने से बाज नहीं आ रहे है। अभिनेता और बीजीपी संसद परेश रावल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर तस्वीर साझा की है जो खूब वायरल हो रही है।
जी हाँ इस तस्वीर में राहुल गांधी शहीदों को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे और गृहमंत्री राजनाथ सिंह, दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर के साथ खड़े हैं। इस तस्वीर में राहुल गांधी के फ़ोन चलाते नजर आ रहे है।
कांग्रेस नेता नूर बानो ने कहा, ‘जो हुआ वह गलत है। इसका असर हम लोगों पर पड़ेगा। पता नहीं किस तरह से बीजेपी इसको भुनाएगी। वह इसका इस्‍तेमाल करेगी। यह फौज का काम था कि वह अपने लोगों को सुरक्षा देती। मैंने टीवी पर सुना कि उन्‍हें यह सूचना थी कि ऐसा हमला हो सकता है तो उन्‍होंने सतर्कता क्‍यों नहीं बरती? इस हमले में सेना की लापरवाही है और वह इसके लिए जिम्‍मेदार है। बता दें कि कांग्रेस नेता की यह टिप्‍पणी ऐसे समय पर आई है जब पूरा देश पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि दे रहा है। नूर बानो के बयान के सामने आने के बाद इसकी जमकर आलोचना हो रही है। इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद पर इमरान खान के पिछले साल हुए शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित क्रिकेटर से नेता बने सिद्धू ने कहा था, ‘कुछ लोगों के लिए क्या आप पूरे देश को जिम्मेदार ठहरा सकते है और क्या आप किसी व्यक्ति को जिम्मेदार ठहरा सकते हो?’

सिद्धू ने इस बात पर जोर दिया कि आतंकवाद का कोई धर्म और उसकी कोई जाति नहीं होती । उन्होंने कहा, ‘पिछले 71 साल से यह सब हो रहा है । क्या वह कभी रूके हैं ।’ सिद्धू के इस बयान के बाद उनकी लोगों ने कड़ी आलोचना की। यही नहीं सिद्धू को कपिल शर्मा के शो से भी हटा दिया गया। उधर, शिरोमणि अकाली दल ने भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से कहा कि वह पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को पार्टी से निकालें क्योंकि उन्होंने पुलवामा आतंकवादी हमले के बावजूद पाकिस्तान से वार्ता का आह्वान किया।


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *