भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने की घोषणा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने वहां की संसद में की. पाकिस्तानी PM के एलान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ा बयान दिया कि ‘अभी-अभी एक पायलट प्रोजेक्ट पूरा हो गया; अभी प्रैक्टिस थी, अब रियल करना है.
इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान कल भारतीय पायलट अभिनंदन वर्धमान को रिहा करेगा. पाक PM ने कहा कि शांति के कदम के तौर पर पायलट की रिहाई का कदम उठाया गया है. उनके ऐलान से घंटे भर पहले विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि पाक प्रधानमंत्री भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव दूर करने के लिए भारतीय PM नरेंद्र मोदी से बातचीत करने को तैयार हैं. बता दें कि आज भारत ने पाकिस्‍तान को यह साफ कर दिया था कि विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी को लेकर कोई डील नहीं होगी.
इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी कहा था कि यदि भारतीय वायुसेना के पायलट की वापसी से भारत के साथ तनाव ‘कम’ होता है तो पाकिस्तान इस पर विचार करने को तैयार है.
नियंत्रण रेखा के पास भारत और पाकिस्तान की वायु सेनाओं के बीच संघर्ष के बाद पाकिस्तान ने भारतीय विंग कमांडर को उस समय हिरासत में ले लिया था, जब उनका मिग 21 लड़ाकू विमान गिर गया था. इसीके एक दिन बाद पाकिस्तान का यह बयान तनातनी के बीच तब आया है, जब भारत ने पाकिस्तान को स्पष्ट शब्दों में कहा कि हमें बगैर शर्त पायलट की तुरंत वापसी चाहिए. पाकिस्‍तान की ओर से बातचीत की पेशकश पर भारत की ओर से कहा गया था कि पाकिस्‍तान पहले कार्रवाई करे और उसका पुख्‍ता सबूत पेश करे तभी बातचीत की कोई गुंजाइश बन सकती है.
27 फरवरी की शाम भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना प्रमुखों के साथ तकरीबन एक घंटे बात की, साथ में राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी उपस्‍थ‍ित थे. इससे पहले 14 फरवरी को पुलवामा में हुए एक आत्‍मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्‍मेदारी पाकिस्‍तान स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली थी. भारत ने इसके बाद पाकिस्‍तान से ‘मोस्‍ट फेवर्ड नेशन (MFN)’ दर्जा वापस ले लिया. घाटी में हुए सर्च ऑपरेशन में जैश के कई आतंकवादी मारे गए.
भारत के लड़ाकू विमान 12 मिराज 2000 ने 26 फरवरी को सुबह पाकिस्तान के अंदर घुसकर आतंकी ठिकाने पर भारी बमबारी कर बालाकोट स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के कैंप को ध्‍वस्‍त कर पाकिस्तान को उसकी औकात दिखा दी. भारतीय वायुसेना की इस एयर स्ट्राईक में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना आतंकी मसूद अजहर के दो आतंकी भाई इब्राहिम अजहर, मौलाना तल्हा सैफ और साले यूसुफ और 25 टॉप कमांडर सहित 325 आंतकी मारे गए थे. इस कार्रवाई का पूरी दुनिया ने समर्थन किया.
इससे झल्लाकर पाकिस्‍तान ने एलओसी इलाके में 27 फरवरी को अपने लड़ाकू विमान से घुसपैठ की कोशिश की जिसे भारतीय वायु सेना ने नाकाम कर दिया. पाकिस्‍तानी विमान का मलबा पाक अधिकृत कश्‍मीर में मिला. इस दौरान भारतीय वायुसेना को एक मिग विमान का नुकसान हो गया और भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा कि हमारा एक पायलट लापता है. बाद में उसके पाकिस्‍तान में बंधक बनाए जाने की सूचना मिली.
पाकिस्तानी PM के एलान पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि ”मैं बहुत खुश हूँ, मैंने पहले भी उनकी रिहाई की मांग की थी. यह सद्भावना की दिशा में एक कदम होने जा रहा है और मुझे उम्मीद है कि यह स्थायी होगा.”.
भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमान को खदेड़ते हुए भारतीय वायु सेना का मिग 21 बायसन विमान पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में क्रैश हो गया. बताया जा रहा है कि इस विमान को भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान उड़ा रहे थे.
विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के पिता सिम्हाकुट्टी वर्धमान रिटायर्ड एयर मार्शल रह चुके हैं. उनके पिता ने निर्देशक मणिरत्नम की फिल्म कातेरू वेलियिदई में सलाहकार के तौर पर काम किया था. इसमें फिल्म का नायक पायलट होता है और पाकिस्तान में पकड़ा जाता है. अभिनंदन मूल रूप से कांचीपुरम से 15 किमी दूर तिरुपानामूर के रहने वाले हैं. अंतरराष्ट्रीय जिनेवा संधि के तहत युद्धबंदियों को डराना, धमकाना या उनका अपमान नहीं किया जा सकता. युद्धबंदियों को लेकर जनता में उत्सुकता भी पैदा नहीं की जा सकती. केवल युद्धबंदियों को अपना नाम, सैन्य पद और नंबर बताने का प्रावधान है.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *