प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि एक तरफ जहां हमारे जवानों की वीरता से हमारा सीना चौड़ा हुआ है, वहीं दूसरी तरफ घर के भीतर ही कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनके बयान का फायदा आतंकियों के सरपरस्त उठा रहे हैं.
कानपुर के निरालानगर मैदान में अनेक विकास योजनाओं का शिलान्यास करने के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए PM ने कहा कि हमारे घर में ही सेना के पराक्रम को नीचा दिखाने के दिन रात प्रयास किये जा रहे है और ऐसे लोगों को शर्म आनी चाहिये लेकिन उनकों शर्म नहीं आती है. उन्होंने गुरुवार को जम्मू में हुये बम विस्फोट को आतंकवादियों की बौखलाहट का परिणाम बताया.
प्रधानमंत्री ने दो दिन पहले लखनऊ में सूखे मेवे बेचने वाले कश्मीरियों के साथ हुयी मारपीट का मुद्दा उठाते हुए उसे गलत बताया. उन्होंने कहा कि देश में एकता का वातावरण बनाए रखना बहुत अहम है. लखनऊ में कुछ सिरफिरे लोगों ने हमारे कश्मीरी भाइयों के साथ जो हरकत की थी, उस पर UP सरकार ने त्वरित कार्रवाई की है, मैं अन्य राज्य सरकारों से भी आग्रह करूंगा कि जहां भी ऐसी हरकत करने की कोई कोशिश करे, उस पर कठोर कार्रवाई की जाए.
उन्होंने पुलवामा आतंकवादी हमलों में शहीद हुये श्याम बाबू तथा बडगाम हवाई दुर्घटना में मारे गये दीपक पांडेय को याद करते हुए दोनों को श्रद्धांजलि दी. मोदी ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद हमारे वीर सेनानियों ने जो पराक्रम दिखाया है, उससे आपका सीना चौड़ा हो गया, आपका माथा गर्व से ऊंचा हो गया. भारत में भी दम है यह लगता है, हमारी सेना जो तय करे वह कर सकती है. आप लोग खुश हैं, आपका हौसला बुलंद है.
मोदी ने कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के लिये ये लोग जिस प्रकार की बयानबाजी कर रहे है, इससे देश के दुश्मनों को ताकत मिल रही है. कुछ लोग यह काम जानबूझकर कर रहे हैं. स्वार्थ की राजनीति के चलते और मोदी विरोध के कारण हमारे राजनीतिक विरोधी जो बयानबाजी कर रहे है उसका सीधा लाभ आतंकियो के सरपरस्त उठा रहे है. क्या यह सेना का अपमान नहीं है? वीरों के पराक्रम का अपमान नहीं है? पाकिस्तान को जो अच्छा लगे, पाकिस्तान को जो पसंद आयें ऐसी बाते हिन्दुस्तान में बैठे हुये लोग करें, क्या ऐसे लोगों को माफ कर सकते है?
PM ने कहा कि मैं आजादी की जंग में अहम भूमिका अदा करने वाले इस कानपुर की धरती से आरोप लगा रहा हूँ कि राजनीतिक स्वार्थ के लिये जिस प्रकार की बयानबाजी कर रहे है, जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग कर रहे हैं, सरकार पर जिस प्रकार के गंदे आरोप लगा रहे हैं उससे देश के दुश्मनों को ताकत मिल रही है. चुनाव तो आयेंगे- जायेंगे, लेकिन देश के दुश्मन इसका फायदा न उठायें इसकी जिम्मेदारी हर हिन्दुस्तानी की है, हर दल की है, सभी की है, हर एक नेता की है. आज जब पाकिस्तान पर पूरी दुनिया का दबाव है और पाकिस्तान आतंकवाद पर रंगे हाथों पकड़ा गया है. पाकिस्तान कहीं मुंह दिखाने लायक नहीं रहा, सारी दुनिया पाकिस्तान पर दबाव बना रही है, ऐसे समय हमारे ही देश में से कुछ लोगों के बयान पाकिस्तान की मदद कर रहे है. क्या उनका ऐसा करना शोभा देता है?
मोदी ने कहा कि मत भूलिये कि आपके बयानों को ही आधार बनाकर पाकिस्तान दुनिया में बांट रहा है, दिखा रहा है और पूरे विश्व में भ्रम फैला रहा है. यह पाप आपके द्वारा हो रहा है? सीमा पार आतंकियों के खिलाफ निर्णायक लडाई के बीच सबने देखा कि एक के बाद एक हमारी सरकार कदम उठा रही है, उसके कारण आतंकी अपना अंत सामने देख रहे हैं. अंत सामने दिख रहा है तो बौखलाहट और भी बढ़ रही है. जिस प्रकार हमारी सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है उससे आतंकी बौखलायेंगे, उनके सरपरस्त बौखलायेंगे और उन्हें दाना पानी देने वाले भी बौखलायेंगे. मैं ये सारे कदम देश की सवा सौ करोड़ जनता की ताकत के बल पर कर पा रहा हूँ और इसीसे आतंकवाद को जड़ से खत्म किया जा सकता है.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *