भारत के पर्यटन उद्योग ने ऊँची उड़ान भरते हुए तीन वर्षों में 25 पायदानों की छलांग लगाई हैl वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम की ओर से जारी ताजा रैंकिंग में यह बात सामने आई हैl
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्रेवेल एंड टूरिज्म कांपेटिटिव इंडेक्स की ताजा सूची के बाद ट्वीट कर खुशी का इजहार किया हैl भारत 2013 तक 65 वें स्थान पर था और अब इस सूची में 40 वें स्थान पर हैl स्पेन पहले और फ्रांस दूसरे नंबर पर हैl
पर्यटन उद्योग की पिछले 3 वर्षों में विकास दर पूरी दुनिया में दो- तीन अंकों की रही है जबकि भारत ने 12 अंकों की उछाल दर्ज की हैl विकास का यह दर पूरी दुनिया के लिए आश्चर्य हैl




पर्यटन मंत्री डा० महेश शर्मा के अनुसार इस उपलब्धि के पीछे विश्व पर्यटन के मानचित्र पर पर्यटकों को आकर्षित करने और उन्हें ज्यादा से ज्यादा सहूलियत देने के लिए चलाई गई मोदी सरकार की विभिन्न योजनाएं हैंl सरह ही यह नई नीतियों के सख्ती से पालन की वजह से संभव हुआ हैl
डा० महेश के अनुसार ई-टूरिज्म वीजा और वीजा ऑन अराइवल का इसमें बड़ा योगदान हैl 2016 में 10 लाख 79 हजार 700 सैलानियों ने ई-वीजा से भारत की यात्रा कीl इसके अलावा भारत भूमि पर उतरते ही विदेशी पर्यटक को मात्र पचास रुपये में एक सिम दिया जाता है, जिसमें 20 जीबी तक डाटा डाउन लोड और बातचीत करने की सुविधा मुफ्त में मिलता हैl
कोई भी विदेशी टूरिस्ट चौबीसों घंटे 1800-11-1363 या 1363 टोल फ्री नंबर पर डायल कर हिंदी अंग्रेजी के अलावा अरबी, फ्रेंच, जर्मन, इटालियन, जापानी, कोरियन, चाइनीज, पोर्तगीज, रशियन और स्पेनिश दुनिया की 12 भाषाओं में से किसी में भी बातकर किसी भी तरह की जानकारी हासिल कर सकता हैl इसके अलावे भारत सरकार ने वेलनेस एंड टूरिज्म डवलपमेंट बोर्ड भी बनाया है जो इस क्षेत्र में और संभावनाएं तलाश रहा है जिसके अनुसार अन्य सुविधाएं और नीतियाँ बनेंगीl



loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *