कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में पाक सेना द्वारा किए गए सीजफायर के उल्लंघन और शहीद हुए दोनों भारतीय सैनिकों के शवों के साथ बर्बरता किए जाने की आलोचना करने के साथ ही नरेंद्र मोदी सरकार को ताना मारते हुए कहा कि यूपीए सरकार के वक्त भाजपा नेत्री तत्कालीन प्रधानमंत्री को चूड़ियां भेजने की बात कहती थीं, आज वो केन्द्र सरकार में मंत्री हैं। क्या वो उसी तरह की पाकिस्तानी कार्रवाई पर PM नरेन्द्र मोदी को चूड़ियां भेजेंगी?
सिब्बल का इशारा केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर था, जिन्होंने उस वक्त PM मनमोहन सिंह को चूड़ियां भेजने की बात कही थी। 1 मई, 2017 को जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में सीमा पार से सीजफायर का उल्लंघन हुआ जिसमें भारतीय सेना के दो जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में नायब सूबेदार परमजीत सिंह और बीएसफ के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर थे। पाकिस्तान ने भारतीय सैनिकों के साथ बर्बरता भी की।
सेना ने बयान में कहा कि पाकिस्‍तानी सेना का ऐसे नृशंस कृत्‍य का जल्‍द ही उचित जवाब दिया जाएगा। पाकिस्‍तान की इस हरकत का भारतीय सेना ने भी जवाब दिया, सेना ने एलओसी से मोर्टार दागे। जवानों ने प्रभावी तौर पर पाकिस्तान को जवाब दिया। पाकिस्तानी सेना ने पुंछ और राजौरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पिछले महीने सात बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था।
कपिल सिब्बल के बयान के बाद स्मृति ईरानी के 2009 का वीडियो सोशल मीडिया पर फिर से वायरल हो गया, जिसमें वो पूर्व पीएम को चूड़ियां भेजने की बात करती थीं। इंदौर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए तब स्मृति ईरानी ने कहा था कि मैं सोचती हूं अपने हाथों की चूड़ियां PM मनमोहन सिंह को दे दूं। पाकिस्तान से कुछ लोग आकर हमारे देश में हमला कर देते हैं और हमारे PM उसी देश से न्याय की गुहार लगाते हैं।

loading…



Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *