नरेंद्र मोदी की खाल उधड़वा लेंगे : तेजप्रताप यादव

 99 


राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने विधानसभा कैम्पस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुलेआम धमकी देते हुए मीडिया से कहा कि वे मोदी की खाल उधड़वा लेंगे।
बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बेटे की शादी में घुसकर मारने के बयान के चंद दिनों बाद ही तेजप्रताप यादव ने सोमवार को एक बार फिर अंसवैधानिक भाषा का इस्तेमाल करते हुए आपत्तिजनक बयान दिया है। उन्होंने इसबार सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाया है।
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की सुरक्षा में कटौती करते हुए जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा हटाने से भड़के तेजप्रताप यादव ने कहा कि लालूजी का मर्डर कराने की साजिश रची जा रही है और हमलोग इसका मुहंतोड़ जवाब देंगे और नरेंद्र मोदी का हम खाल उधड़वा लेंगे।
तेज प्रताप ने कहा कि मेरे पिता लालू यादव की हत्या की साजिश की जा रही है। इसी साजिश के चलते उनकी सुरक्षा में कटौती की गई है। आए दिन हम लोग कार्यक्रम करते हैं और उसमें लालू यादव भी आते रहते हैं। उन्होंने कहा कि अगर कोई अनहोनी होती है तो इसके लिए नरेंद्र मोदी जिम्मेदार होंगे। लालू की हत्या कराने की साजिश रची जा रही है।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अपने बड़े बेटे के बयान पर कहा है कि तेजप्रताप मेरा बेटा है और सुरक्षा हटाने से डरा हुआ है, इसीलिए ऐसा कहा होगा, लेकिन लालू किसी से नहीं डरता, लालू अभी जवान है। मेरे बच्चे मेरे लिए चिंता करते हैं, बिहार की जनता मेरे साथ है तो मुझे किसी से डरने की क्या जरूरत है?
इससे ठीक पहले नेता प्रतिपक्ष और लालू यादव के छोटे बेटे बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि उनके पिता के हत्या की साजिश रची जा रही है और अगर उन्हें कुछ होता है तो इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार जिम्मेदार होगी।
तेजप्रताप के बयान पर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि केंद्र की सरकार ने क्या आकलन किया है, ये तो मुझे मालूम नहीं है लेकिन शायद लालू प्रसाद को ये लग रहा होगा कि उनका रुतबा कम हो जाएगा। मुझे तो वो डरपोक बताते थे, क्या उनकी सारी हेकड़ी इसी सुरक्षा के चलते थी? वैसे भी लालू को किस बात का डर है? उनसे तो बिहार को डर लगता है। तेजप्रताप की भाषा जनता देख रही है और अभी सत्ता गई है, बाद में विधायकी भी जाएगी। सोनिया गांधी ने भी मोदी जी को मौत का सौदागर कहा था आज देख लीजिए उनका हाल।

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने लालू प्रसाद, शरद यादव और जीतन राम मांझी की सुरक्षा कम करने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि केंद्र सरकार सुरक्षा की जरूरत के हिसाब से फैसला लेती है। जरूरत के हिसाब से सुरक्षा श्रेणी घटाया और बढ़ाया जाता है, यह रुटीन काम है। जरूरत पड़ी तो केंद्र फिर सुरक्षा बढ़ा सकती है। वहीं जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने तेज प्रताप के बयान पर कहा कि PM के बारे में इस तरह की बात करना बहुत गलत है। सत्ता से बाहर होने के बाद से लालू परिवार फ्रस्ट्रेशन का शिकार हो गया है। ये लोग राजनीति को गंदा कर रहे हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की जेड प्लस सुरक्षा हटाने पर एनडीए की सहयोगी हम पार्टी के प्रवक्ता विजय यादव ने केंद्र के फैसले की सीधे निंदा करते हुए कहा कि मांझी उग्रवाद प्रभावित इलाकों से आते हैं। उनकी जान पर हमेशा खतरा बना रहता है।केंद्र सरकार इस फैसले पर पुन: विचार करे।
केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने अपनी त्वरित प्रतिक्रिया में कहा कि अब तेजप्रताप को पागल, दिवालिया घोषित कर पागलखाने या जेल भेजा जाए, PM को भद्दी गालियां देना असंवैधानिक है।
केंद्र सरकार ने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और राज्यसभा सांसद शरद यादव की सिक्युरिटी में कटौती कर दी है तथा पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी को मिली जेड प्लस सिक्युरिटी हटा ली है। लालू की सिक्युरिटी जेड प्लस कैटेगरी से कम करके जेड कर दी गई है। जेड प्लस कैटेगरी में 10 NSG कमांडो और पुलिस समेत 55 सिक्युरिटी मेंबर्स होते हैं, जबकि जेड कैटेगरी में 22 सिक्युरिटी गार्ड्स का घेरा होता है। इनमें 4-5 NSG कमांडो होते हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *