देश भर में लागू होगा बिहार मॉडल, अतिपिछड़ों को मिलेगा फ्री गैस कनेक्शन : धर्मेंद्र प्रधान

 68 



केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि अतिपिछड़ों की हालत दलितों से अच्छी नहीं है, उन्हें आगे बढ़ाने के लिए बिहार में लागू मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मॉडल अच्छा है, इसे देश भर में लागू किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने बिहार के मॉडल को पूरे देश में लागू करने का फैसला किया है. अतिपिछड़ों और आदिवासियों को फ्री गैस कनेक्शन मिलेगा.
बिहार के दरभंगा जिले के बहेड़ी में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के दूसरे चरण की शुरुआत करते हुए धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सरकार ने पहले 5 करोड़ गरीब परिवार को फ्री गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने का फैसला किया था. अभी तक 3 करोड़ 60 लाख महिलाओं को फ्री गैस कनेक्शन दिया जा चुका है, इसमें बिहार के 50 लाख परिवार को उज्ज्वला योजना का लाभ मिला है. पहले चरण में कुछ शहरी और ग्रामीण परिवार छूट गए थे. दूसरे चरण में उन्हें भी इसका लाभ दिया जा रहा है.
प्रधान ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली बार अतिपिछड़ों की एक कैटेगरी बनाई और इसमें आने वाली जातियों को आगे बढ़ाने के लिए कई योजनाएं बनाई, इसका असर भी हुआ है. केंद्र सरकार इस मॉडल को अपनाकर देश भर में लागू करेगी और अतिपिछड़ों को केंद्र सरकार की सभी योजनाओं का लाभ मिलेगा.
प्रधान ने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि कोई गरीब महिला धुआं में खाना पकाने को विवश न रहे. दूसरे चरण में आठ करोड़ परिवार को उज्ज्वला योजना का लाभ मिलेगा. सारे दलित परिवार को फ्री गैस कनेक्शन दिया जाएगा. ऐसा कोई आदिवासी परिवार न होगा, जिसके पास गैस कनेक्शन न हो.


उज्ज्वला योजना से बदली महिलाओं की जिंदगी : नीतीश कुमार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस अवसर पर कहा कि मैंने महिलाओं की बात को बड़े ध्यान से सुना कि कैसे उन्हें धुएं के कष्ट से छुटकारा मिला है. गांव के साथ-साथ शहरों में भी महिलाएं गोइठा और लकड़ी पर खाना बनाती थीं, फिर धीरे-धीरे लोगों तक कोयला पहुंचने लगा. लोग कोयला से खाना बनाने लगे. मुझे याद है एक वक्त था जब शाम 3 से 4 बजते-बजते हम जिस इलाके में जाते थे, हर जगह सिर्फ धुआं ही धुआं दिखता था. शाम में जल्दी खाना बन जाने के कारण लोग जल्दी खा लेते थे, अब ऐसी बात नहीं है. पहले महिलाओं को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता था, लकड़ी से उठने वाले धुएं के कारण आंख पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता था. सिर्फ आंख ही नहीं पूरा शरीर बीमारी का घर हो जाता था, लोग बहुत लंबे समय तक इस परेशानी को झेलते रहे हैं. गैस कनेक्शन मिलने से लोगों को धुएं से छुटकारा मिला है.
मुख्यमंत्री ने कहा कि एक वक्त था जब सांसद की अनुशंसा पर लोगों को गैस कनेक्शन मिलता था. मैं सांसद बनने पर जब गांव में जाता था तो लोग गैस कनेक्शन दिला देने की मांग करते थे. मैं केंद्र सरकार के इस काम की सराहना करता हूं. केंद्र सरकार के इस योजना से बिहार के साथ पूरे देश के करोड़ों परिवार को बहुत लाभ मिला है. महिलाओं को अब धुएं में खाना बनाने के लिए मजबूर नहीं होना पड़ता है. लोगों को गैस कनेक्शन के साथ चूल्हा भी दिया जा रहा है. पहले बिहार में गैस की उपलब्धता नहीं थी, लेकिन केंद्र सरकार की इस योजना से अब बिहार में भी गैस की कोई कमी नहीं है. धर्मेंद्र प्रधान ने इस योजना का विस्तार किया इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं.
कार्यक्रम उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, मंत्री विजेंद्र यादव, मदन सहनी समेत कई नेता मौजूद रहे.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *