दूध फटने के बाद न फेंके पानी, एक्‍स्‍ट्रा प्रोटीन के आता है काम, इस तरह लें उपयोग में

 130 

दूध फटने के बाद हम पनीर बनाते हैं उसके बाद जो पानी बचता है उसे हम तौर पर फेंक देते हैं। लेकिन आपको नहीं मालूम होंगे कि इसमें कमाल के गुण होते हैं, ये पौष्टिक होता है और आपके ढेर सारे काम आ सकता है। ना फेंके फटे दूध का पानी, आ सकता है आपके बड़े काम, पनीर बनाने के बाद बचे पानी का प्रयोग दूध फटने के बाद जो पानी बचता है उसे कभी नहीं फेंकना चाहिये क्‍योंकि यह पौष्टिक होता है और आपके ढेर सारे काम आ सकता है।
इस पानी में ढेर सारा प्रोटीन होता है। इसके कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं जैसे- मांसपेशियों की ताकत बढ़ाना, प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना, कैंसर और एचआईवी जैसे रोगों से बचाना, लो ब्‍लड प्रेशर ठीक करना, हार्ट अटैक और स्‍ट्रोक से बचाना, मोटापा घटाना, पेट ठीक रखना और किडनियों को स्‍वस्‍थ रखना, आदि। यह प्रोटीन पाने का एक प्राकृतिक तरीका है। इसको आहार में शामिल करने के शरीर पर कोई भी बुरे प्रभाव नहीं पड़ते। इसलिये हमारा सुझाव है कि अगर दूध फट जाए तो उसे फेंकने की बजाए उसके पानी का इस्‍तमाल नीचे दी गई चीज़ों में करें।
आटे को गूंदने के
आटे को गूंदने केलिये पानी की जगह फटे दूध के पानी का इस्‍तमाल आटे को गूंदने में करें। इससे आपकी रोटियां या पराठे नरम बनेंगे और प्रोटीन से भर जाएंगे। आप इसे थेपला या अन्‍य आटे में डाल सकती हैं।
ज्‍यूस में मिलाएं
फल और सब्‍जियों के जूस में मिक्‍स भी कर सकते हैं। अगर आप हर सुबह जूस पीते हैं तो उसमें पानी की जगह इसे मिलाएं।
ग्रेवी में मिक्‍स करें
कई सारी ग्रेवियों में खट्टा स्‍वाद पाया जाता है जो कि ज्‍यादातर टमाटर, अमचूर, इमली, दही या कोकम के इस्‍तमाल की वजह से होता है। तो आप इस पानी का प्रयोग कर के खट्टेपन को कम कर सकती हैं।
उपमा में मिलाएं
इस पानी का हल्‍का फ्लेवर होता है जिसे उपमा में मिलाने से उसका स्‍वाद और भी ज्‍यादा बढ़ जाता है। अगर आप उपमा में टमाटर या दही मिलाती हैं, तो उसे ना मिला कर चावल या पास्‍ता में
चावल, पास्‍ता या सब्‍जी पकाएं अगर आपके पास ज्‍यादा मात्रा में पानी बच जाए तो उसे चावल, पास्‍ता या सब्‍जी पकाने के लिये इस्‍तमाल करें।
सूूप
अगर आप सूप के बहुत शौकीन हैं, और अलग अलग तरह की सूप पीना पसंद करते हैं, सूप बनाते वक्‍त स्‍टॉक या पानी की जगह पर इसे डालें। फिर देखिए प्रोटीन और स्‍वाद से भरा सूप पीजिएं।
कंडीशनर
इससे बालों को धोएं बालों को शैंपू करने के बाद, दुबारा इस पानी से सिर को धोएं। फिर 10 मिनट तक ऐसे छोड़ दें और फिर हल्‍के गरम पानी से सिर को साफ कर लें। जब बाल सूख जाएं तब उसमें कंघी करें, जिससे बाल उलझे नहीं।
मुलायम चेहरे के लिए
त्‍वचा को कोमल बनाए इससे चेहरे को धो कर आप उसे मुलायम, टोन्‍ड, नरम और साफ बना सकती हैं। इस पानी में एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं जो कि सिर और त्‍वचा का pH बैलेंस बनाए रखते हैं। अगर आपके पास बाथटब है तो उसमें 1-2 कप इस पानी को मिलाएं और उसमें खुद को 20 मिनट तक डुबोए रखें।
पौधे में डालें
इस पानी को सादे पानी के साथ मिला कर पौधों को सींचे। इसे पानी में घोल कर ही प्रयोग करें क्‍योंकि यह बहुत ज्‍यादा एसिडिक होता है, जिससे पौधे जल सकते हैं।

loading…


Loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *