तेजस्‍वी यादव बिहार के राजनीतिक भविष्य : शत्रुघ्न सिन्‍हा

 101 



भाजपा सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पार्टी छोड़ने की बात को अफवाह ठहराते हुए कहा कि मैं कहीं नहीं जा रहा हूं, पार्टी में बना हुआ हूं. साथ ही तेजस्‍वी यादव की तारीफ करते हुए कहा कि वो बिहार के राजनीतिक भविष्य का इकलौता चेहरा हैं.
श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित राष्ट्रमंच सम्मेलन में शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने कहा कि ऐसी अफवाहें थी कि मैं पार्टी छोड़ दूंगा क्योंकि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में मुझे टिकट नहीं मिलेगा. लेकिन मैं आज यह साफ कर रहा हूं कि मैं यहीं रहने वाला हूँ, कहीं नहीं जा रहा हूँ.
भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने यशवंत सिन्हा के भाजपा छोड़ने और दलगत नीति से संन्यास लेने के एलान पर उनकी तारीफ करते हुए कहा कि यशवंत सिन्हा ने राजनीति में त्याग-बलिदान दिया है. यशवंत सिन्हा का यह कदम सराहनीय है. पटना के एसकेएम हॉल में आज भाजपा से नाराज और विपक्षी नेताओं का राष्ट्रमंच पर जमावड़ा लगा था जिसमें देश के विभिन्न हिस्से से आए कई नेताओं ने भाग लिया.


बाद में एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि भाजपा सरकार में लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ हो रहा है. मोदी सरकार में चुनाव आयोग और न्यायपालिका जैसी संवैधानिक संस्था को कमजोर किया जा रहा है. देश में ऐसा पहली बार हुआ है कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पर महाभियोग चलाने की तैयारी की जा रही है. मोदी सरकार से दलित, किसान, युवा कोई खुश नहीं है. बुनियादी मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए गैरजरूरी बातों को मुद्दा बनाया जा रहा है.
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी चाहे जितने कपड़े बदलकर और विदेश यात्रा करके वाहवाही लूटें, लेकिन देश में जो भी हालात बिगड़ रहे हैं उसके लिए उन्हें ही गाली मिलेगी, क्योंकि ताली अगर कप्तान को तो गाली भी कप्तान को. कठुआ गैंगरेप मामले को लेकर पूरी दुनिया हमारी भर्त्सना कर रही है और ऐसा साफ दिख रहा है कि भाजपा के कुछ लोग दोषियों को बचाने में लगे हैं.
शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि मेरे जैसे लोग सरकार को आईना दिखाने की कोशिश करते हैं तो पार्टी मुझे अछूत महसूस करवाती है. मैं पार्टी के साथ तब से हूं जब हमारे केवल दो सांसद हुआ करते थे. पार्टी में मेरे खिलाफ जोर-जबर्दस्ती की जाती है, मगर मैं फिर भी संघर्ष कर रहा हूं. अगर मुझे पार्टी निकालती है तो उसे न्यूटन का तीसरा नियम याद रखना चाहिए कि प्रत्येक क्रिया के समान एवं विपरीत प्रतिक्रिया होती है.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *