अपनी संपत्ति का विवरण चुनाव आयोग से छुपाने को लेकर बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के विरुद्ध पटना हाइकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर दोनों के निर्वाचन को अवैध बताते हुए इसे रद्द करने की मांग की गयी हैl
इस जनहित याचिका में बेनामी संपत्ति की जांच सीबीआइ से कराने की मांग भी की गयी हैl पटना हाइकोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नामांकन भरते समय तेजस्वी और तेज प्रताप ने अपनी संपत्तियों का पूरा ब्योरा नहीं दियाl याचिकाकर्ता ने चुनाव आयोग से अपनी संपत्ति का विवरण छुपाने को लेकर दोनों के निर्वाचन और चुनाव को अवैध बताते हुए इसे रद्द करने की मांग की हैl
इससे पूर्व बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी लालू प्रसाद के परिवार पर कथित रूप से बेनामी संपत्ति अर्जित करने और जमीन के साथ मॉल घोटाले का आरोप लगाते हुए सीबीआइ जांच की मांग की थीl
सुमो ने आरोप लगाया था कि राबड़ी सरकार के कार्यकाल के दौरान ओम प्रकाश कत्याल एवं अमित कल्याल की कम्पनी Iceberg Industries Pvt. Ltd. ने बिहटा में शराब की फैक्ट्री लगायीl 28 सितंबर को 2006 को AK Infosystems Pvt Ltd. नाम की कंपनी गठित हुई जिसमें अमित कत्याल एवं उनके भाई राजेश कत्याल एवं अन्य Director थे, इस कंपनी में तेजस्वी, तेज प्रताप, चन्दा यादव एवं रागिनी लालू 2014 जून से Director नियुक्त किये गयेl चन्दा यादव एवं रागिनी लालू अभी भी AK Infosystems में Director हैंl अमित कत्याल ने अपने सारे शेयर तेजस्वी (1500) एवं राबड़ी जी (4000) को 2014 में दे दियाl
AK Infosystems कंपनी आज पूरी तरह से लालू परिवार के कब्जे में है, इस कम्पनी में मात्र 2 Director चंदा यादव एवं रागिनी लालू हैं तथा 100 प्रतिशत शेयर राबड़ी देवी एवं तेजस्वी यादव के पास हैl इस कंपनी के पास पटना शहर में करोड़ों की जमीन है जिसका पूरा मालिकाना लालू परिवार के पास हैl कत्याल परिवार को बिहार में शराब फैक्ट्री लगाने में मदद करने के एवज में लालू परिवार को करोड़ों की जमीन कत्याल परिवार ने सौंप दीl Delight Marketing को होटल दिलाने के एवज में 200 करोड़ की 2 एकड़ जमीन के मालिक बन गये और शराब फैक्ट्री लगवाने के एवज में पटना शहर में करोड़ों की जमीन के मालिक बन गयेl
सुमो ने सवाल किया कि आखिर क्यों कत्याल परिवार ने लालू के बेटों, बेटियों को Director बनाया ? आखिर क्यों कत्याल परिवार Director से हट गए और केवल लालू परिवार रह गए? आखिर क्यों कत्याल परिवार ने अपने सारे शेयर राबड़ी और तेजस्वी को दिया ? आखिर क्यों कत्याल परिवार ने जमीन खरीदी और कुछ वर्षों के बाद जमीन सहित पूरी कंपनी लालू परिवार को सौंप दी? कत्याल से लालू परिवार का कोई Blood relation नहीं था, रिश्तेदारी नहीं थी तो फिर क्या शराब फैक्ट्री लगाने में मदद के एवज में यह जमीन सहित कंपनी नहीं दी गयी? तेजस्वी, राबड़ी बतायें कि केवल 55 हजार निवेश कर करोड़ों की संपत्ति वाली कंपनी के मालिक कैसे बन गए? तेजस्वी, राबड़ी बतायें कि इस कंपनी की कौन-कौन सी जमीन पटना में कहां-कहां है ?
हाँलाकि लालूप्रसाद और राजद इन आरोपों को खारिज करते हुए इसे बकवास बता चुके हैंl

loading…



Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *