तिरंगे को सलामी देना मानते हैं तौहीन!

 77 


पटना के जिला निबंधन सह परामर्श केन्द्र (DRCC) की असिस्टेंट मैनेजर द्वारा गणतंत्र दिवस समारोह में तिरंगे को सलामी नहीं देने का गम्भीर मामला सामने आया है.
गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि DRCC में झंडोत्तोलन कर रहे थे. वहाँ उपस्थित तमाम कर्मियों ने उक्त अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज को सलामी देने का कार्य किया, परन्तु दो असिस्टेंट मैनेजर श्रीमती समरीन जमाल एवं श्रीमती कंचन सिन्हा ने इसकी कोई आवश्यकता ही नहीं समझी.
सूत्रों का कहना है कि इन दोनों की हरकतें DRCC में शुरू से ही उदंड़तापूर्ण रही हैं. DRCC पटना में 6 असिस्टेंट मैनेजर हैं, जिनमें 4 महिलाएं हैं. सभी असिस्टेंट मैनेजर को लगभग साठ हज़ार रूपये प्रति माह वेतन मिलता है. ज्ञात है कि असिस्टेंट मैनेजरों की नियुक्ति बगैर किसी प्रकार की परीक्षा लिए पसंद और परिचय के आधार पर सिर्फ एक अदद इंटरव्यू के आधार पर हुयी है.
यहाँ के एक पुरुष असिस्टेंट मैनेजर अपने उदंड़तापूर्ण रवैये के कारण 8 माह पूर्व विभाग द्वारा दण्डित भी किए जा चुके हैं. बताया जाता है कि चारों महिला असिस्टेंट मैनेजर विभाग पर एक बोझ ही बनी हुयी हैं, परन्तु एक तो महिला और दूसरे पैरवी के बल पर आने के कारण आज तक इनके विरुद्ध कोई कारवाई नहीं हुयी है. तमाम महिला असिस्टेंट मैनेजर कार्यालय में अन्य कर्मियों की शिकायत उच्चाधिकारियों से करने, नीत नये षड्यंत्र रचने और तू-तू, में-में करने में ही अपनी सारी उर्जा लगाती रहती हैं.
DRCC कार्यालय में इनके लिए कोई कायदा कानून नहीं है. बताया जाता है कि DRCC में ड्रेस कोड लागू है, पर कोई भी असिस्टेंट मैनेजर ड्रेस कोड का पालन नहीं करते हैं. बताया जाता है कि साठ हजार रूपये प्रतिमाह पाने वाले इन 6 असिस्टेंट मैनेजरों को लगभग 9-10 असिस्टेंट मिले हुए हैं. असिस्टेंट मैनेजरों का सारा कार्य उनके यही असिस्टेंट करते हैं.
हाल- फ़िलहाल DRCC में कार्यरत कई क्लर्कों का स्थानान्तरण विभिन्न जिलों में किया गया है. परन्तु आज तक एक भी असिस्टेंट मैनेजर का स्थानान्तरण नहीं हुआ है. इसका कारण यह है कि सभी असिस्टेंट मैनेजर पैरवी पुत्र हैं.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading...


Loading...