जिस पाकिस्तान में लगभग खत्म हो गए हिंदू वहां पूरे रौब से रहता है ये राजपूत

 249 

पाकिस्तान यूं तो बॉर्डर पर नापाक हरकतें कर हमें ललकारता रहता है पर अपने ही देश में एक राजपूत परिवार के सामने उसकी एक नहीं चलती। आलम ये है कि आज भी इस शाही परिवार से पाकिस्तानी खौफ़ खाते हैं। इनकी आनबान और शान के पीछे एक बेहद रोचक कहानी है।
देश के बंटवारे के बाद कई रियासतें पाकिस्तान के हिस्से में चली गई। जब रियासतें पाकिस्तान में गई तो राजाओं का जाना लाजिमी था। इन्हीं रियासतों में से एक है अमरकोट रियासत, पाकिस्तान के इस रियासत के राजा है करणी सिंह सोढ़ा।
सोढ़ा अक्सर पाकिस्तान के कई राजनीतिक कार्यक्रमों में नजर आते रहते हैं। सोशल मीडिया पर भी उनका अच्छा खासा जलवा है। फोटो डालने से लेकर अपनी बाते वो इस माध्यम से लोगों तक पहुंचाते रहते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि पाकिस्तान में एक हिंदू परिवार का ऐसा जलवा आखिर कैसे?
तो आपको जान लें कि करणी सिंह, हमीर सिंह सोढा के बेटे और अमरकोट रियासत के राजा है। हमीर सिंह का परिवार पाक राजनीति में अहम जगह रखता है। हमीर सिंह के पिता राणा चंद्र सिंह अमरकोट के शासक परिवार से थे। चंद्र सिंह सात बार सांसद और केंद्रीय मंत्री भी रहे। वे पूर्व पीएम जुल्फिकार अली भुट्टो के करीबी मित्र थे।

पीपीपी से अलग होने के बाद राणा चंद्र सिंह यानी करणी सिंह के दादा ने पाकिस्तान हिंदू पार्टी का गठन किया था, जिसका झंडा केसरिया रंग का था। उसमें ओम और त्रिशूल अंकित थे। उनका 2009 में निधन हो गया।
करणी सिंह जहां भी जाते हैं उनके साथ बंदूकधारी बॉडीगार्ड भी उनकी सुरक्षा में मौजूद रहते हैं। उनके साथ मौजूद बॉडीगार्ड हमेशा एके 47 राइफल और शॉटगन साथ रखते हैं। प्रिंस जीप और लग्जरी गाड़ियों में भी घूमते दिखते हैं। पाकिस्तान के मुसलमान मानते हैं कि हमीर सिंह का परिवार राजा पुरु (पारस) के वंशज हैं और वे आज भी उनकी सुरक्षा के लिए हमेशा खड़े रहते हैं।
20 फरवरी 2015 को करणी सिंह की शादी राजस्थान के शाही परिवार की बेटी पद्मनी से हुई थी जो कानोता (जयपुर) के ठाकुर मानसिंह की बेटी हैं। बरात पाकिस्तान की अमरकोट रियासत से भारत आई थी।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...