अभी-अभी एक बड़ी खबर आ रही है। अलगावादी नेता उमर फारूक को घर में नजरबंद किया गया है।
आपको भी बता दें कि इससे पहले भी हुर्रियत समूह के अध्यक्ष मीरवाइज उमर को जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस की एक टीम ने एक बार पहले भी नज़रबंद कर दिया था। पुलिस मीरवाइज के निगीन स्थित आवास पर पहुंची और उन्हें बताया था कि वह आज (शुक्रवार) घर से बाहर नहीं निकल सकते।
प्रशासन ने अलगाववादियों की ओर से बुलाए गए प्रदर्शन से पहले शुक्रवार को हुर्रियत समूह के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारुक को उनके घर में नजरबंद कर लिया।

अलगाववादियों ने दुख्तारन-ए-मिल्लत की प्रमुख आसिया अंद्राबी को लोक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत हिरासत में रखे जाने के विरोध के तहत जुमे की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन करने का आह्वान किया था।
आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की पीट-पीटकर हत्या मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं बाकी लोगों की तलाश की जा रही है।
जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक एस.पी. वैद्य ने कहा था कि DSP अयूब पंडित की हत्या में अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक के लोग शामिल थे।
उन्होंने संवाददाताओं से कहा था कि ‘हमने तीन लोगों की पहचान की है और उनमें से दो को गिरफ्तार किया था तीसरे को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।’
आपको बता दें कि नौहट्टा इलाके की जामिया मस्जिद के बाहर सुरक्षा में तैनात पंडित की लोगों के एक समूह ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। उनका शव शुक्रवार सुबह बरामद किया गया।
यह पूछ जाने पर कि जब घटना हुई तो मीरवाइज मस्जिद में थे? इस पर वैद्य ने कहा कि जांच चल रही है, लेकिन निश्चित रूप से हत्या में उनके (मीरवाइज) लोग शामिल थे।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading…

Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *