भाजपा ने सोमवार (24 अप्रैल) को कहा कि नगर निगम चुनाव में उसे अभूतपूर्व जीत की आशा है, जबकि कांग्रेस ने बीच का राह निकालते हुए इसे सतारूढ़ दल के साथ करीबी लड़ाई बताया. वहीं आप प्रमुख अरविन्द केजरीवाल का कहना है कि यदि एग्जिट पोल के मुताबिक भाजपा को जीत मिलती है तो वह बड़ा आंदोलन करेंगे.

राजधानी दिल्ली के तीन नगर निगमों के लिए कल हुए चुनाव में 270 सीटों पर 58.58 प्रतिशत मतदान हुआ. हालांकि, दो सीटों पर उम्मीदवारों की मौत के कारण चुनाव स्थगित हो गया है. दो सामाचार चैनलों द्वारा दिखाए गए एग्जिट पोल से खुश दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि दक्षिण, उत्तरी और पूर्वी दिल्ली नगर निगम के करीब 250 वार्ड में उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान लोगों का अभूतपूर्व समर्थन देखा है. उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने जीवन में किसी पार्टी के लिए जनता का ऐसा समर्थन पहले नहीं देखा है, खास तौर पर अनियमित कालोनियों, झुग्गियों और शहर के ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों में. हमें अभूतपूर्व जीत की आशा है.’

एग्जिट पोल के नतीजों को गलत बताते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि परिणाम से पता चलेगा कि पार्टी भाजपा के साथ ‘कांटे’ की टक्कर में थी. वहीं चुनाव में शामिल तीसरी बड़ी पार्टी आप के तीसरे नंबर पर रहने की आशंका है. गौरतलब है कि दोनों एग्जिट पोल में भाजपा को करीब 220 सीटें और कांग्रेस को करीब 31 सीटों पर जीत मिलने की संभावना जतायी गयी है. दिल्ली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चतर सिंह ने कहा, ‘हम एग्जिट पोल के नतीजों महत्व नहीं देते हैं. मतगणना का इंतजार करें और वास्तविक परिणाम में आपको भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर दिखेगी, जबकि आप तीसरे नंबर पर रहेगा.’ चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस ने 208 सीटों पर जीत की संभावना जतायी थी.

2015 विधानसभा चुनाव में 70 में से 67 सीटें जीतने वाली आप को एग्जिट पोल देखकर झटका लगा है और उसका दावा है कि चुनाव परिणाम में धांधली हो सकती है. वहीं आप प्रमुख तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चेतावनी दी, यदि एग्जिट पोल के नतीजे सही साबित होते हैं तो ‘आंदोलन’ होगा. 26 अप्रैल को आने वाले चुनाव परिणाम से पहले अपने आवास पर चुनावी पर्यवेक्षकों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि आप का जन्म आंदोलन से हुआ है और वह अपनी जड़ों की ओर लौटने में संकोच नहीं करेगी.

उन्होंने कहा, ‘यदि ऐसा परिणाम आता है तो, यह साबित हो जाएगा कि पंजाब, उत्तर प्रदेश, पुणे, मुंबई, भिंड और धौलपुर की तरह यहां भी धांधली हुई है. हम आंदोलन से जन्मे हैं. हम यहां सत्ता का सुख भोगने नहीं आये हैं. हम आंदोलन की ओर लौटेंगे.’

उन्होंने कहा, ‘संजीव झा के विधानसभा क्षेत्र (बुराड़ी) में एक कॉलोनी है जहां 100 प्रतिशत मतदान हुआ है. लेकिन यदि वे 50 प्रतिशत वोट भाजपा के पक्ष में दिखाते हैं तो, यह संदेह पैदा करता है.’

loading…



Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *