कांग्रेस के लिए 2019 में सत्ता में आना कठिन: सलमान खुर्शीद

 58 


कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद का मानना है कि अगले लोकसभा चुनाव में अकेले दम पर उनकी पार्टी का सत्ता में आना कठिन है। विपक्षी पार्टियों का गठबंधन कांग्रेस को रोकने के लिए नहीं बल्कि भाजपा को रोकने के लिए बनना चाहिए।
पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा- अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए अन्य दलों को भी बलिदान और समझौते करने होंगे। कांग्रेस के सभी नेता अच्छी तरह से समझ गए हैं कि देश की सत्ता को बदलने के लिए गठबंधन बहुत जरूरी है।
खुर्शीद ने कहा- गठबंधन के लिए जो भी बलिदान, समझौते या बातचीत जरूरी होगा, उसके लिए कांग्रेस तैयार है। यह तभी संभव है जब दूसरे दल भी इस तरह का सामंजस्य दिखाना होगा।
अकेले दम पर सरकार बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा- आज की स्थिति देखते हुए यह कठिन है। अगर हम अकेले दम पर सरकार बनाने का सोचते हैं, तो उसके लिए हमें पांच साल तक काम करना होगा क्योंकि पिछले तीन साल से कांग्रेस गठबंधन के लिए काम कर रही है। कांग्रेस अब अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोच सकती। इसके लिए हमें पांच साल तक लड़ना पड़ेगा।
खुर्शीद ने कहा कि कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है, जो देश भर से सीटें जीतेगी। बाकी सहयोगी पार्टियां अपने अपने राज्य से जीत हासिल करेंगी। उन्होंने मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में बसपा और सपा से गठबंधन न होने को लेकर कहा कि महागठबंधन बनाने का उद्देश्य भाजपा को रोकने का है। ऐसे में अगर विपक्षी पार्टियां अपना लक्ष्य भूल जाती हैं तो महागठबंधन नहीं बन पाएगा। यह सभी पार्टियों और देश के लिए बड़ी हार होगा।

loading…


Loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *