ऐतिहासिक फैसला : टॉयलेट नहीं बनाया तो घर की बिजली काट देगी सरकार

 59 

जिले के जहाजपुर कस्‍बे में स्वच्छ भारत मिशन अभियान को सफल बनाने को लेकर प्रशासन भरसक प्रयास कर रहा है।
अभियान के तहत टाॅयलेट बनाने को लेकर पिछले एक साल से लगातार जागरूकता अभियान चला रहे जहाजपुर एसडीएम करतार सिंह ने अब सख्त रूख अपना लिया है। खुले में शौच करते हुए छह लोगों की गिरफ्तारी के बाद अब एसडीएम करतार सिंह ने गागीथला क्षेत्र में इसका असर नहीं होने पर बिजली विभाग के सहायक अभियंता को एक निर्देश दिए कि 15 दिन में यदि कोई ग्रामीण टाॅयलेट का काम शुरू नहीं करता है तो उसके घर के बिजली कनेक्‍शन काट दें। इसके साथ ही उन परिवार को राशन डीलर भी राशन न दें। इस निर्देश के बाद कई ग्रामीण खुश हैं तो कई के चहेरों पर हवाईया उड़ने लगी हैं।

एसडीएम करतार सिंह ने कहा कि पिछले एक साल से ब्लाक स्तर के अधिकारी जागरूकता अभियान चला रहे हैं, मगर असर नजर नहीं आने से कल भी छह लोगों को खुले में शौच करते हुए हिरासत में लिया था। आज हमने गागीथला ग्राम पंचायत का निरीक्षण किया तो यहां पर मात्र 19 फीसदी लोग ही टाॅयलेट का उपयोग करते मिले। इसलिए बिजली निगम के एएईएन को आदेश जारी किया कि आने वाले 15 दिन में यदि कोई टाॅयलेट का निर्माण प्रारंभ नहीं करता तो उसके आवास का बिजली कनेक्‍शन काटा जाए और उसे सरकारी राशन सामग्री भी नहीं दी जाए।
उधर ग्रामीण रामभंवर सिंह कहते हैं कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत एसडीएम द्वारा चलाया जा अभियान उचित है। हम भी प्रयास कर रहे हैं। ग्रामीणों को टायलेट का निर्माण कर स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाना चाहिए। अब देखना यह है कि स्वच्छत भारत मिषन के अभियान के तहत एसडीएम करतार सिंह द्वारा लगातार उठाए गए सख्त कदमो का असर ग्रामीणों पर कितना होगा। यह तो आने वाले समय ही तय करेगा।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *