एक दुसरे बालू माफिया ने खरीदा राबड़ी का 5 फ्लैट : सुशील मोदी

 84 


भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के परिवार के खिलाफ एक और नया खुलासा करते हुए कहा कि एक अन्य बालू माफिया ने पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के पांच फ्लैट्स को खरीदा है.
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि लालू परिवार के संरक्षण में पलने वाले बालू माफिया सुभाष यादव जिसने 13 जून 2017 को 1 करोड़ 72 लाख में राबड़ी देवी के 3 फ्लैट खरीदे थे, अवैध बालू खनन के मामले में फरार है. साथ ही उन्होंने नया खुलासा करते हुए कहा कि एक अन्य बालू माफिया संदेश के राजद विधायक अरूण यादव ने भी 13 जून, 2017 को ही मरछिया देवी काम्पलेक्स में राबड़ी देवी के पांच फ्लैट्स को एक ही दिन में खरीदा था.
सुशील मोदी ने कहा कि राजद विधायक अरूण यादव के पुत्र राजेश कुमार रंजन एवं दीपू कुमार तथा पत्नी किरण देवी ने 2 करोड़ 56 लाख के काला धन का इस्तेमाल कर 87 लाख 50 हजार प्रति फ्लैट की दर से 5 फ्लैट खरीदा. यानि 13 जून, 2017 को दो बालू माफिया सुभाष यादव एवं अरूण यादव ने कुल 8 फ्लैट 3 करोड़ 28 लाख में खरीदा. सुमो ने कहा कि अरूण यादव ने बालू की अवैध कमाई से अर्जित पैसों को अपनी कंपनी किरण दुर्गा कंस्ट्रक्शन प्रा. लि. अगियांव, भोजपुर के माध्यम से एक ही दिन 5 फ्लैट खरीदने में इस्तेमाल किया.


भाजपा नेता ने आगे कहा कि अरूण यादव ने ‘किरण दुर्गा कं.’ का इस्तेमाल कर 10 महेंद्रा ट्रेक्टर, 2 जेसीबी मशीन, 2 पोकलेन मशीन खरीदने का काम किया जिसका इस्तेमाल सुभाष यादव की ब्राडसन कंस्ट्रक्शन, वंशीघर कंस्ट्रक्शन एवं मोर मुकुट कंपनी के अवैध खनन में इस्तेमाल होता था. उन्होंने कहा कि अरूण यादव ने 24 लाख 31 हजार में कंपनी के नाम से पजेरो स्पोर्ट्स कार 2015 में खरीदने का काम किया. इस 24 लाख की स्पोर्ट्स कार के बैंक एग्रीमेंट में बालू माफिया सुभाष यादव ने गवाह के नाते हस्ताक्षर किया है.
सुशील मोदी ने कहा कि अरूण यादव से लालू की प्रगाढ़ता का पता इसी से चलता है कि 2015 के विधानसभा चुनाव में दो बार के विधायक विजेन्द्र यादव का टिकट काटकर अरूण यादव को चुनाव मैदान में उतारा गया.
सुमो ने कहा कि बुधवार की रात गिरफ्तार कुख्यात अपराधी रंजीत चैधरी ने पुलिस के समक्ष स्वीकार किया है कि संदेश विधायक अरूण यादव से उसने हथियार खरीदे हैं तथा अरूण यादव के समधी राज नारायण सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.
उपमुख्यमंत्री ने सवाल उठाते हुए आगे कहा कि आखिर बालू माफियाओं ने ही क्यों राबड़ी के आठ फ्लैट को एक ही दिन में खरीद लिया. उन्होंने कहा कि इन बालू माफियाओं ने अवैध खनन के काले पैसे का इस्तेमाल फ्लैट खरीदने में किया है. किसी बालू कंपनी को आठ फ्लैट खरीदने की आवश्यकता क्यों पड़ गयी? किसी निर्माण कंपनी को स्पोर्ट्स कार खरीदने की आवश्यकता क्यों पड़ गयी. बालू माफिया सुभाष यादव फरार है आखिर वह स्पोर्ट्स कार की खरीद में गवाह क्यो बनें. एक निर्माण कंपनी ने 10 टैक्टर, 2 पोकलेन, 2 जेसीबी आखिर क्यों खरीदा?

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *