अच्छा शारीरिक स्वास्थ्य और उच्च स्तर की यौन आवृत्ति से 65 साल से ऊपर के शादीशुदा जोड़े ज्‍यादा खुश रहते हैं। एडल्ट लोगों में सेक्स करने की अवधि (ड्यूरेशन) कम नहीं होनी चाहिए। किसी भी प्रकार का सेक्सुअल टच और खुशी में बढ़त वयस्कों में बार-बार सेक्स करने को बढ़ावा देते हैं। यह बात अमेरिका के जान्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के रिसर्च सामने आई है।

इस रिसर्च में 65 से 74 साल तक के 732 जोड़ों का अध्ययन किया गया। इसमें उनके शारीरिक स्वास्थ्य, मानसिक रूप से स्वस्थ, शादीशुदा जिंदगी में खुशी और सेक्स से जुड़ी गतिविधियों का अध्ययन किया गया। मनोवैज्ञानिक मैक्स वॉचटेल ने बताया कि ज्यादा सेक्स का मतलब ज्यादा खुशी एक मिथक है। उनके अनुसार ज्याद सेक्स का आशय है कि आप शारीरिक और मानसिक दोनों ही तरह से स्वस्थ रहेंगे। शोधकर्ताओं ने बताया कि ज्यादातर लोगों में इसके सकारात्मक परिणाम ही देखे गए। पहले भी कई शोधों में यह बात स्पष्ट हो चुकी है वयस्क लोगों में जितनी ज्यादा यौन आवृत्ति होगी उतने ही वे अपनी शादीशुदा जिंदगी में खुश रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *