जम्मू कश्मीर में शांति बहाली एवं देश की एकता और अखंडता को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा बलों व पुलिस की कारवाई से न केवल पाकिस्तान बौखलाहट में है वरन कश्मीर के तमाम अलगाववादी नेता भी बैचेनी में हैंl इस बौखलाहट में अब वे पत्रकारों के साथ भी बदसुलूकी करने पर उतर आये हैंl
स्टिंग ‘ऑपरेशन हुर्रियत’ के बाद जम्मू कश्मीर के अलगाववादी बुरी तरह बौखला गये हैंl हुर्रियत की हकीकत को उजागर करने वाली इस खबर पर प्रतिक्रिया लेने के लिए जब आजतक चैनल की संवाददाता जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख यासीन मलिक के पास पहुंची तो उन्होंने चैनल की टीम के साथ बदसुलूकी कीl संवाददाता ने जब मलिक से कश्मीर में पथराव और विरोध प्रदर्शनों के लिए पाकिस्तान से फंडिंग मिलने संबंधित सवाल पूछा तो वो भड़क उठे और संवाददाता का मोबाइल फोन छीन लिया और मलिक ने मोबाइल को जमीन पर पटककर तोड़ डालाl मलिक ने चैनल के फोटोग्राफर से भी धक्कामुक्की कीl
संवाददाता के अनुसार जब वह श्रीनगर में लाल चौक से कुछ ही दूरी पर स्थित मायसूना में अलगाववादी यासीन मलिक के घर पहुंचीं, तो उन्हें ऊपर माले पर बुलाया गयाl वहां जब चैनल के स्टिंग में पत्थरबाजों के लिए आइएसआइ से पैसे लेने की बात कबूलते कैमरे में कैद हुए अलगाववादी नईम खान पर प्रतिक्रिया मांगी गयी तो वह भड़क गए और हाथापाई करने लगेl
संवाददाता ने यह भी कहा कि वह जब वहां पहुंचीं थी तो कैमरा ऑफ था लेकिन जैसे ही यासीन मलिक ने चैनल के स्टिंग की बात सुनी, वह बौखला गये और कहने लगे कि आप भी मेरा स्टिंग करने खुफिया एजेंसी से आयी हैंlटीम ने कहा कि वे आजतक से हैं, बस आपकी प्रतिक्रिया लेना चाहते हैंl यासीन फोन छीनने को लपके और उनपर हमला कियाl इंडिया टुडे की विशेष जांच टीम ने अपनी तहकीकात में पत्थरबाजों को बेनकाब करने का काम किया थाl

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें

loading…

Loading…





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *