अमेरिका-चीन को पीछे छोड़ भारत बनेगा दुनिया का सबसे विकसित देश : मुकेश अंबानी

 63 


रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के अध्यक्ष और देश के सबसे धनी व्यक्ति मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत में वर्ष 2030 तक 10 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का दम है और भारत इसी सदी में अमेरिका और चीन को पीछे छोड़ देगा।
एक कार्यक्रम में अंबानी ने कहा कि पश्चिमी वर्चस्व के 300 वर्षों के बाद, एक बार फिर दुनिया भारत और चीन की तरफ देख रही है। भारत की वृद्धि दर चीन की तुलना में अधिक होगी और यह ज्यादा आकर्षक भी होगी। उन्होंने कहा कि तेरह साल पहले 2004 में मैंने कहा था कि भारत 20 साल में पांच लाख डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेगा, तब भारतीय अर्थव्यवस्था 500 अरब डॉलर की थी।। आज यह सच साबित होता दिख रहा है। वर्ष 2024 के पहले ही भारत पांच लाख डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। साथ ही अंबानी ने कहा कि अगले दस साल में भारतीय अर्थव्यवस्था तिगुनी होकर 7,000 अरब डॉलर के साथ दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगी।

मुकेश अंबानी ने कहा कि हर तकनीकी क्रांति अपने साथ वैश्विक बदलाव लाती है। चौथी औद्योगिक क्रांति इंटरनेट डाटा जैसे कनेक्टिविटी, कंप्यूटिंग और आर्टिफिशयल इंटेलिजेंसी की बुनियाद पर होगी। जो टेक्नोलॉजी को नहीं अपना पाएंगे, वह अप्रासंगिक हो जाएंगे। आज का मानव सुपर इंटेलिजेंस के जमाने में जी रहा है। चीन के लिए जो काम मैन्यूफैक्चरिंग ने किया, वह काम भारत के लिए सुपर इंटेलिजेंस कर सकता है।
अंबानी ने कहा कि नए जमाने में डाटा कच्चे तेल (क्रूड ऑयल) का काम करेगा। उन्होंने कहा कि भारत की विशाल युवा आबादी इसे स्टार्टअप नेशन के रूप में बदल सकती है। डाटा नए जमाने में तेल का काम करेगी। यह नयी मिट्टी होगी। उन्होंने कहा कि महज एक साल पहले भारत ब्राडबैंड के मामले में 150 वें स्थान पर था, जबकि आज पहले नंबर पर है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading...


Loading...





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *