अमेरिका कभी भी पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित करने का फैसला ले सकता है

 86 


पाकिस्तान और अमेरिका के बीच संबंध लगातार खराब होते जा रहे हैं। अमेरिका पाकिस्तान को टेररिस्ट स्टेट घोषित करने का भी फैसला ले सकता है। इस बीच पाकिस्तान ने संकेत दिए हैं कि वह अमेरिका के साथ संबंधों को खत्म करने की दिशा में भी आगे बढ़ सकता है।
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की ओर से आतंकवादी समूहों को संरक्षण देने का आरोप लगाए जाने से भड़का पाकिस्तान अमेरिका के खिलाफ राजनयिक नीति को लेकर तीन विकल्पों पर विचार कर रहा है। इनमें से एक विकल्प अफगानिस्तान में अमेरिका और नाटो सेनाओं को पाकिस्तान के जरिए पहुंच पर रोक लगाने का भी है।


पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार पाक तीन विकल्पों पर विचार कर रहा है, अमेरिका के साथ कूटनीतिक संबंधों को सीमित करना, आतंकवाद के खिलाफ आपसी सहयोग को कम करना और अफगानिस्तान में अमेरिकी रणनीति में उसका साथ न देना। पाकिस्तान ने यह भी कहा है कि वह अमेरिका से F-16 लड़ाकू विमानों की खरीद नहीं करेगा और इसके लिए चीन की ओर रुख कर सकता है।
अमेरिका ने नियमों के उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान के सबसे बड़े हबीब बैंक के अपने देश में संचालन को प्रतिबंधित करके पाकिस्तान को आर्थिक मुश्किलों का अहसास दिलाया है। पाकिस्तान से गैर-नाटो सहयोगी का दर्जा छीनने के साथ ही अमेरिका उसको मिलने वाली सभी तरह की मदद को खत्म करना चाहता है। इसके अलावा ISI के संदिग्ध अधिकारियों पर ट्रैवल बैन भी लगाया जा सकता है। अमेरिका पाकिस्तान को आंतकवादी देश भी घोषित करने पर विचार कर सकता है। पाकिस्तान को गैर-नाटो सहयोगी के दर्जे से बाहर करने और आतंकी देश घोषित करने से हथियारों तक उसकी पहुंच और विश्व बैंक एवं IMF जैसी संस्थाओं से लोन लेने में उसे मुश्किल होगी।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *