लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं NDA को एकजुट रखने और मजबूत करने की कोशिशों में जुटी भाजपा और उसकी सबसे पुरानी सहयोगी शिवसेना के बीच बयानबाजी उतनी ही तीखी होती जा रही है.
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सख्त लहजे में कहा है कि शिवसेना को हराने वाला अभी पैदा नहीं हुआ है. ठाकरे का यह बयान अमित शाह की उस टिप्पणी का जवाब माना जा रहा है, जिसमें उन्होंने गठबंधन न होने की स्थिति में पूर्व सहयोगियों को पटकने की बात कही थी. भाजपा को फिलहाल अपनी सबसे पुरानी सहयोगी शिवसेना से ही लोहा लेना पड़ रहा है और आम चुनाव में गठबंधन न होने की स्थिति में पूर्व सहयोगियों को भी हराने वाले भाजपा प्रमुख के बयान पर शिवसेना प्रमुख ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.
शाह के बयान की आलोचना करते हुए ठाकरे ने कहा ‘मैंने किसी से ‘पटक देंगे’ जैसे शब्द सुने हैं, शिवसेना को हराने वाला अभी पैदा नहीं हुआ. ठाकरे मुम्बई के वर्ली इलाके में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे. 2014 के लोकसभा चुनाव के पहले मोदी लहर पर निशाना साधते हुए ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने अपनी यात्रा में कई लहरें देखी हैं. शिवसेना केंद्र और महाराष्ट्र सरकार में BJP के साथ है.
अमित शाह ने कुछ दिनों पहले ही महाराष्ट्र के लातूर में कहा था कि अगर गठबंधन हुआ तो पार्टी अपने सहयोगियों की जीत सुनिश्चित करेगी, लेकिन यदि ऐसा नहीं हुआ तो पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में अपने पूर्व सहयोगियों को हराएगी. इस दौरान मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मंच पर मौजूद थे.
उद्धव ठाकरे ने कहा कि BJP से उलट, शिवसेना ने चुनावों के पहले राम मंदिर का मुद्दा उठाया है ताकि उनका पर्दाफाश किया जा सके, जो हमेशा इसका उपयोग चुनावी मुद्दे के लिए करते हैं. ठाकरे ने कहा कि हमें बताइए कि कांग्रेस किस प्रकार मंदिर निर्माण में बाधा डाल रही है? कांग्रेस को अपनी करनी का फल 2014 में मिल गया, उसको लोकसभा में विपक्ष के नेता का भी पद नहीं मिल सका. ज्ञात हो कि शनिवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि कांग्रेस राम मंदिर निर्माण में अड़ंगे लगाने में जुटी है।
ठाकरे ने सवाल किया कि जब नीतीश कुमार की जदयू और रामविलास पासवान की लोजपा जैसी भाजपा की सहयोगी पार्टियां विरोध कर रही हैं तो वह मंदिर का निर्माण कैसे करेगी? BJP को इस पर अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *